हार्ट अटैक के खतरे से बचने का एक अच्छा ड्रिंक! – Heart Attack ka Ilaj

heart attack drink
ad4

आज मैं आप लोगों के लिए एक और उपयोगी नुस्खा लेकर आई हूँ जिससे आप हार्ट अटैक के खतरे को दूर रख सकते हैं और साथ ही इस नुस्खे से आपकी आर्टरीज यानि कि धमनियों में जमी हुई गन्दगी भी साफ़ हो जाएगी|

दोस्तों जैसा कि आप सब जानते हैं आज कल हार्ट अटैक और हार्ट की problems एक आम बात हो गयी है|

AD3

इस ड्रिंक को पीने से लाखों लोग हार्ट अटैक के खतरे से बच गए! इसको पीने से हार्ट आर्टरीज साफ़ हो जाती हैं! – Heart Attack ka Ilaj

इसका मुख्य कारण है हमारा प्रदूषित खान पान और हमारी ख़राब जीवन शैली| एक स्वस्थ हार्ट के लिए यह बहुत आवश्यक है कि हमारा खान पान सही हो, हम सही समय पर खाएं और नियमित रूप से exercise ज़रूर करें|

Please इस विडियो को आखिरी तक बहुत ध्यान से देखें|

https://www.youtube.com/watch?v=FKCiHa8qhIY

दोस्तों क्या आपको पता कि हार्ट अटैक क्यूँ आता हैं| ये धमनियों में गन्दा खून होने के कारण होता है| जब धीरे धीरे हमारी धमनियों में फैट जम जाता हैं तो हमें हार्ट अटैक आने के चांस होते हैं|अगर हम फैट युक्त खाना कम खाते हैं और excercise करते हैं तो स्वस्थ रह सकते हैं|

This Magical Homemade Drink Can Unclog Arteries and Has Saved Millions Of People From Heart Attack! – Heart Attack ka Ilaj

इसके आलावा आज मैं आपके लिए एक ऐसा आज़माया हुआ घरेलू नुस्खा लायी हूँ जिसने लाखों लोगों को हार्ट अटैक से बचाया हैं और उनके हार्ट को स्वस्थ किया है| इस नुस्खे से आपकी धमनियों यानि कि आर्टरीज में जमी हुयी गन्दगी साफ़ हो जाएगी और आप हार्ट अटैक के खतरे से कोसों दूर रहेंगे| सोचिये दोस्तों अगर आप इस पेय को, जो कि घर पर बड़ी ही आसानी से तैयार किया जा सकता है, पीकर खतरनाक और भयानक हार्ट अटैक से दूर रह सकते हैं तो हैं न यह एक बहुत ही फायदेमंद बात?

तो अब देर किस बात की? चलिए अब मैं आपको बताती इस कमाल के पेय को बनाने की विधि|

इसके लिए आपको चाहिए:

  1. 1 लीटर पानी
  1. 1 कप किशमिश
  1. 2 tbsp अदरक घीसी हुई
  1. 2 tbsp शहद ( अगर हो सके तो organic या जैविक शहद का उपयोग करें)
  1. 4 tbsp ग्रीन टी

5 मीनट तक मध्यम आंच पर पानी को गरम कर लें और फिर इसमें ग्रीन टी डाल दें और थोड़ी देर इसे उबलने दें| इसके बाद इसको आंच से हटा लें और फिर इस पानी में किशमिश डाल दें| 10 मिनट बाद इसमें अदरक और शहद मिला दें और इसे ढक कर थोड़ी देर के लिए छोड़ दें|

इस पेय को दिन में दो बार भोजन करने से पहले नियमित रूप से पियें| इससे आपकी धमनियों में जमा हुआ फैट धीरे धीरे समाप्त हो जायेगा और आपका शरीर स्वस्थ हो जायेगा| इसके नियमित सेवन से कुछ ही दिनों में आप अपने स्वास्थ में सुधार महसूस करेंगे|

इसके अलावा प्रयास करें कि भोजन में नमक और चीनी कम खाएं और अगर हो सके तो घर में केवल सेंधा नमक का ही उपयोग करें| सेंधा नमक आपको थोड़ा महंगा अवश्य पड़ेगा मगर ये आपके स्वस्थ के लिए बहुत ही उपयोगी होगा| मैं तो अपने घर में केवल सेंधा नमक का ही उपयोग करती हूँ| हमने लगभग 2 साल पहले केवल सेंधा नमक का उपयोग शुरू किया और आज भी हम केवल सेंधा नमक ही उपयोग कर रहे हैं|

तो दोस्तों इस कमाल के पेय को आप ज़रूर पीजिएगा और चमत्कारी परिणाम देखिएगा!

Homemade Drink Can Unclog Arteries

मेरी आपसे एक और request है कि ज्यादा से ज्यादा इस विडियो को share करें जिससे ज्यादा लोग इस घरेलू नुस्खे का लाभ उठा कर एक स्वस्थ हार्ट पा सकें और हार्ट अटैक के खतरे से बच सकें | हमारे video को like भी करें और अगर आप हमसे कुछ कहना चाहते हैं तो नीचे comment भी ज़रूर करें|

अगर आपने हमारे channel को subscribe नहीं किया है तो please subscribe करें नहीं तो आप हमारे important videos miss कर देंगे| thank you!

Please Subscribe to our YouTube channel for more tips

http://bit.ly/gharkitips

ये छोटा सा उपाय आपके गंदे पीले दांतो को चमका देगा! – Whitening Teeth in Hindi

whitening teeth in hindi

दोस्तों आप लोगों में से कितने लोग मोतियों जैसे सफ़ेद और चमकदार दांत चाहते हैं? मैं आपका जवाब जानती हूँ| जी हाँ दोस्तों हम सभी चाहते हैं मोतियों जैसे चमकने वाले सफ़ेद दांत! और हमारा आज का विडियो उन्हीं लोगों के लिए है जो तरह तरह के paste use कर के थक चुके हैं और अपने दाँतों के पीलेपन से बहुत ही परेशान रहते हैं|

अब आप को अपने दांत छुपाने की कोई आवश्यकता नहीं है| बल्कि अब तो मुस्कुराने का समय आया है| इस आसान घरेलु नुस्खे से न केवल आपको मोतियों की तरह चमकने वाले दांत मिलेंगे बल्कि आप के दांतों की और भी कई problems दूर हो जाएगी| तो please इस विडियो को आखिरी तक बहुत ध्यान से देखें| यह नुस्खा बहुत ही आसान है और सभी के लिए है|

AD3

https://www.youtube.com/watch?v=hFKOgNOQAAo

हम लोग रोज एक नया टूथपेस्ट ले के आते और ये आशा करते हैं कि ये पेस्ट हमारे दाँतों की सारी problems दूर कर देगा| मगर ऐसा नहीं होता है | हममे से ज्यादार के दांतों में कोई ना कोई problem होती है| और कोई problem ना भी हो तो हमारे दांत पीले हो जाते है|

आज हम आपको एक ऐसी रामबाण ओषधि बताएँगे जिससे आपके दांत बिल्कुल मोतीयों की तरह चमकने लंगेंगे…
इसके लिए आपको चाहिए सिर्फ तीन चीज़ें जो की बाज़ार में बहुत ही आसानी से उपलब्ध हैं| यह तीन चीजें हैं:

1. 1/4 tsp पेप्पेर्मेंट आयल यानि कि पेपरमिंट का तेल
2. 1 tbsp नारियल का तेल
3. 1/2 tbsp हल्दी – कोशिश करके हल्दी जैविक यानि की organic use करें|

इन 3 चीजों को एक कटोरे मैं मिलाकर पेस्ट बना लें और रोज सुबह और रात में सोने से पहले इस पेस्ट को अपने ब्रश पर लगाकर इससे ब्रश करें | इस घरेलु नुस्खे को please कोई मज़ाक मत समझिये| यह बहुत ही आज़माया हुआ तरीका है मोतियों जैसे दांत पाने के लिए|

Whitening Teeth in Hindi

आप इसको 1 महीने कर के देखें आप के दांतों का पीलापन निश्चित ही चला जायेगा और दांत सफ़ेद मोतियों की तरह चमकने लगेंगे|

हल्दी में antimicrobial propeties होती हैं जो दांतों की गन्दगी का नाश कर देती है और नारियल तेल में antibacterial propeties होती हैं जो मुँह में पैदा होने वाले bacteria का नाश कर देती है| पेपरमिंट तेल से मुँह की बदबू control होती है| इसलिए इस घरेलू पेस्ट का उपयोग करने के और भी कई फायदे हैं| यह न केवल आपके दांतों का पीलापन हटा देगा बल्कि मुँह की बदबू को भी ख़त्म कर देगा, दांतों में होने वाली cavity को रोकेगा और अगर आप दांत के दर्द से परेशान है तो भी आपको आराम मिलेगा|

Learn How Whitening Teeth in Hindi

इसके अलावा मैं एक और बात कहना चाहूंगी| अगर आप रात मैं सोने से पहले ब्रश नहीं करते हैं तो please सुबह और रात दोनों समय ब्रश अवश्य करें| इसके अलावा दिन में कुछ भी खाने के बाद अपना मुँह अच्छी तरह साफ़ करके कुल्ला अवश्य करें|

तो दोस्तों इस tip को आप ज़रूर आजमायियेगा और चमत्कारी परिणाम देखिएगा|

मेरी आपसे एक और request है कि ज्यादा से ज्यादा इस को share करें जिससे ज्यादा लोग इस घरेलू नुस्खे का लाभ उठा सकें और स्वस्थ सुन्दर दांत पा सकें| अगर आप हमसे कुछ कहना चाहते हैं तो नीचे comment भी ज़रूर करें|

अगर आपने हमारे channel को subscribe नहीं किया है तो please subscribe करें नहीं तो आप हमारे important videos miss कर देंगे| thank you!

Please Subscribe to our YouTube channel for more tips

http://bit.ly/gharkitips

जूस बनाने की विधि (Sugar ka Ilaj) जिससे आप घर बैठे ही बहुत सी बिमारियों से छुटकारा पा सकते हैं

Sugar ka Ilaj

आज हम आपके लिए लाये हैं एक ऐसा जूस बनाने कि विधि जिससे न केवल डाईबीटीस ठीक होगा और कैंसर सेल्स कंट्रोल में होंगे बल्कि gastritis और hypertension जैसी बिमारियों के इलाज में भी यह जूस बहुत की अदभुत लाभ देता है|

कृपया ये विडियो देखें पूरी जानकारी के लिए

AD3

https://www.youtube.com/watch?v=ahl_86XOo5Y

तो चलिए दोस्तों अब मैं आपको बताने जा रही हूँ वह जूस बनाने की विधि जिससे आप घर बैठे ही बहुत सी बिमारियों से छुटकारा पा सकते हैं!

यह जूस एक ऐसी वस्तु से बनता है जिसमें बहुत ही आश्चर्यजनक करने वाले और अदभुत औषधि गुण हैं| पुराने ज़माने में बहुत सी बिमारियों को ठीक करने के लिए इसका बहुत उपयोग भी किया जाता था | लेकिन जैसे जैसे medical science उन्नति कर रहा है लोग इन प्राकिर्तिक अदभुत लाभ देने वाली औषधियों को भूलने लगे हैं|

वह अदभुत लाभ देने वाली वस्तु है शकरकंद यानी की मीठा आलू| जी हाँ दोस्तों आपको शायद विश्वास नहीं होगा कि शकरकंद, डाईबीटीस या फिर ऐसी और किसी बीमारी को ठीक करने में लाभकारी हो सकता है परन्तु यह सच है| शकरकंद में बहुत से ऐसे गुण हैं जो ऐसी बिमारियों से छुटकारा पाने के लिए बहुत ही लाभदायक है|

Sugar ka Ilaj ka Best Juice

दोस्तों आपको शायद यह सोच रहे होंगे कि शकरकंद diabetic लोग कैसे खा सकते हैं| पर आपको यह जान कर आश्चर्य होगा कि बाकी starch वाली सब्जियों की तरह शकरकंद diabetic लोगों को नुक्सान नहीं करता बल्कि उल्टे फायदा करता है| जी हाँ दोस्तों diabetic लोगों को शकरकंद से बचने की ज़रुरत नहीं बल्कि उन्हें तो शकरकंद ज़रूर खाना चाहिए| शकरकंद में जो carbohydrate होतें हैं उससे आपका blood sugar level बढ़ने में बहुत साहयता मिलती है|

इस video में हम आपको इस जूस को बनाने की पूरी विधि बताएँगे जिससे आप बड़ी ही आसानी से इस जूस को घर पर बना सकते हैं और डाईबीटीस, cancer cell, gastritis और hypertension जैसी कई बिमारियों को control कर सकते हैं|

इस जूस को बनाने के लिए आपको चाहिए:
1. एक शिमला मिर्च
2. एक सेब
3. एक छोटा चुकंदर यानी कि beetroot
4. 8 शकरकंद यानी कि sweet potatoes
जूस बनाने के लिए आप इन सारी चीज़ों को मिक्सी में चलाकर छान लें और इस जूस का नियमित सेवन करें| इससे आपका मधुमेह कंट्रोल होगा और और भी कई लाभ होंगे| इस जूस के सेवन से :

1. आपका वजन कंट्रोल में रहेगा|
2. आपका तनाव यानि कि stress level कम होगा
3. इससे आपका दिमाग तेज़ होगा
4. इससे आपकी पाचन शक्ति भी ठीक रहेगी

तो दोस्तों आशा करती हूँ कि अदभुत लाभ देने वाले शकरकंद को आप कोई मामूली चीज़ नहीं समझेंगे बल्कि इसके महत्व को समझेंगे| यह बहुत ही अजमाया हुआ नुस्खा है और आप please इसे ज़रूर try करें और देखें इसके चमत्कारी परिणाम|

मेरी आपसे एक और request है कि ज्यादा से ज्यादा इस विडियो को share करें जिससे ज्यादा लोग इस घरेलू नुस्खे का लाभ उठा सकें और स्वस्थ हो सकें| अगर आप हमसे कुछ कहना चाहते हैं तो नीचे comment भी ज़रूर करें|

अगर आपने हमारे channel को subscribe नहीं किया है तो please subscribe करें नहीं तो आप हमारे important videos miss कर देंगे| thank you!

Please Subscribe to our YouTube channel for more tips

http://bit.ly/gharkitips

पीठ के दर्द से छुटकारा पाने के रामबाण तरीके! – Home Remedies for Back Pain in Hindi

आज हम आपके लिए लाये हैं पीठ के दर्द के बहुत ही लाभदायक घरेलू नुस्खे!

कृपया ये विडियो देखें पूरी जानकारी के लिए

AD3

आजकल पीठ का दर्द एक आम बात हो गयी है | इसका कारण यह है कि हमारी लाइफस्टाइल बहुत ही ख़राब हो गयी है| हम लम्बे समय तक कंप्यूटर पर बैठते हैं या फिर घंटों तक smartphone देखते रहते हैं| और तो और आजकल बच्चों को भी कंप्यूटर और smartphone से एडिक्शन हो गया है और इसलिए बच्चों में भी पीठ के दर्द की समस्या देखी गयी है| हम सही posture में नहीं बैठते हैं और exercise बिल्कुल भी नहीं करते हैं| इन्हीं सब कारणों की वजह से आज कल बहुत से लोग पीठ के दर्द से परेशान रहते हैं|

पीठ के दर्द से छुटकारा पाने के रामबाण तरीके! – Home Remedies for Back Pain in Hindi

तो चलिए जानते हैं पीठ दर्द के कुछ ऐसे प्राकिर्तिक घरेलू उपाय जिनसे आपको बहुत आराम मिलेगा और आपका जीवन हो जायेगा एक बार फिर pain free और active!

इस घरेलू नुस्खे के लिए आपको चाहिए 200 ml दूध, 4 कलियाँ लहसुन और स्वादानुसार शहद| सबसे पहले लहसुन की कलियाँ छीलकर इन्हें पीस लें और धीमीं आंच पर भून लें| अब धीरे धीरे इसमें दूध डालें और जब दूध उबल जाए तो इसे गैस से उतार लें और इसमें स्वादानुसार शहद मिला लें| इसे दिन में एक बार पियें| इससे आपको कमर के दर्द में तुरंत आराम मिलेगा|

Hot Pack for Back Pain

इसके अलावा back pain दूर करने के लिए आप लहसुन को और भी तरीकों से use कर सकते हैं| सुबह खाली पेट लहसुन की 2-3 कलियाँ पानी से निगल लें|

या फिर आप घर में बड़ी आसानी से लहसुन का तेल बना सकते हैं| इसके लिए थोड़ा सा सरसों का तेल ले लें| अब इसमें 8-10 कलियाँ लहसुन छीलकर डालें और धीमी आंच पर इसे भुन लें| जब लहसुन लाल हो जाए तो तेल को ठंडा करके छान लें और इस तेल से पीठ पर मालिश करें| और फिर तौलिये को थोड़ा गरम करके पीठ पर अच्छी तरह लपेट दें और 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें| दोस्तों इस नुस्खे से आपको पीठ के दर्द में ज़रूर लाभ होगा| आप इसे आज़मा कर तो देखें!

Back Pain Home Remedies

इसके अलावा cold और hot packs भी back pain को दूर करने में बहुत ही लाभदायक होते हैं| इससे आपकी inflammation कम होगी और nerves सुन्न हो जाएँगी| जिससे आपको दर्द में आराम मिलेगा|

इसके अलावा दोस्तों यह बहुत ज़रूरी है कि back pain ठीक करने के लिए हम अपना posture ठीक रखें| याद रखिये अगर हम उठते, बैठते, चलते समय या फिर खाते पीते, काम करते समय सीधे नहीं बैठेंगे तो हम हमेशा back pain से परेशान रहेंगे| यह बहुत ज़रूरी है कि हम 10-15 मिनट रोज़ exercise करें और अपने शरीर को fit और active रखें|

तो दोस्तों यह थीं कुछ टिप्स back pain को कम करने की| इन्हें आप ज़रूर आजमाईयेगा और आपको खुद ही फर्क महसूस होगा| ऐसी कई घरेलू टिप्स और कई और exciting बातें लेकर हम आपसे फिर जल्दी ही मिलेंगे| तब तक के लिए आप नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करिए और Ghar Ki Tips के youtube चैनल पर subscribe ज़रूर कीजिये|

Please Subscribe to our YouTube channel for more tips

http://bit.ly/gharkitips

सरवाईकल के दर्द में अदभुत लाभ होगा इस नुस्खे से!

सरवाईकल का दर्द जिसे होता है वही समझता है कि यह दर्द कितना ज़्यादा परेशान करने वाला है| आज कल के भाग दौड़ के जीवन में किसी को भी यह दर्द हो सकता है| यह दर्द गर्दन से शुरू होता है और धीरे धीरे पूरे शरीर में फ़ैल जाता है| अगर आपको सरवाईकल के दर्द की परेशानी है तो आप इसे बिल्कुल भी नज़रंदाज़ न करें| तुरंत ही नीचे दिए गए घरेलू उपायों को अपनाएँ और साथ ही किसी अच्छे डॉक्टर की सलाह भी लें| यह घरेलू नुस्खे बहुत आज़माए हुए हैं इनसे आपको सरवाईकल के दर्द में तुरंत ही अदभुत लाभ मिलेगा|

[mashshare shares=”false”]

AD3

एप्पल सिडार विनेगर / सेब का सिरका

सरवाईकल के दर्द में सेब के सिरके को चमत्कारी लाभ देने वाला बताया जाता है| एक कॉटन के पतले कपड़े या रुमाल को सेब के सिरके में भिगो कर इसे गर्दन के चारों तरफ लपेट लें और 15 – 20 मिनट के लिए छोड़ दें| ऐसा नियमित रूप से दिन में 2-3 बार करें| और साथ ही आप अपने स्नान के पानी में 1 चम्मच सेब का सिरका डाल लें| इससे सरवाईकल के दर्द में शीघ्र ही आराम मिलेगा|

तिल का तेल

सरवाईकल के दर्द को दूर करने के लिए तिल का तेल एक उत्तम औषधि है| गुनगुना करके तिल के तेल से गर्दन में मालिश करने से बहुत आराम मिलता है| परन्तु इस बात का ध्यान रखें कि मालिश हल्के हाथों से धीरे धीरे करें| ऐसा आप दिन में 2-4 बार कर सकते हैं| आपको दर्द में अवश्य ही आराम मिलेगा|

[mashshare shares=”false”]

अदरक का इस्तेमाल

सरवाईकल के दर्द में अदरक को बहुत लाभकारी माना जाता है| अपने भोजन में अदरक का प्रयोग अधिक मात्रा में करें| अदरक का काढ़ा बनाकर भी आप इसका सेवन कर सकते हैं| इसके लिए 1 बड़ा कप पानी ले लें और इसमें 1 टुकड़ा अदरक कद्दूकस करके डाल दें| पानी को उबलने दें| इसमें 1 छोटा चम्मच मेथी दानें डालें| जब पानी आधा रह जाए तब गैस बंद कर दें| थोड़ा ठंडा होने पर इसे छान लें और इसमें 1 बड़ा चम्मच शहद डालकर पियें| इस काढ़े का आप नियमित सेवन कर सकते हैं| यह दर्द नाशक है| इससे आपको जल्द ही लाभ मिलेगा|

तो मित्रों इन नुस्खों को आप सरवाईकल के दर्द में अवश्य ही आजमयियेगा| आपको शीघ्र ही लाभ मिलेगा| अगर आपको यह लेख पसंद आया है तो कृपया इस जानकारी को ज़्यादा से ज़्यादा share करें जिससे बहुत से पीड़ित लोग इन नुस्खों का लाभ ले सकें| कृपया आप अपने सुझाव हमें comment कर के दें|

Please Watch Below – Kamar Dard ka accha Nuskha

[mashshare shares=”false”]

[mashshare shares=”false”]

किडनी की पथरी से छुटकारा पाने की एक प्राकतिक ओषधि

किडनी में पथरी की समस्या आजकल बहुत आम बात हो गयी है| इस समस्या के लिए हमारे आयुर्वेद में कई प्रकार की ओषधियाँ पाई जाती हैं| आज मैं आपको किडनी की पथरी से छुटकारा पाने के लिए सबसे रामबाण ओषधि के बारे में बताने जा रही हूँ| कुल्थी जिसे अंग्रेज़ी में Horsegram कहते हैं किडनी की पथरी को टुकड़े टुकड़े करके शरीर से बाहर निकलने में एक बहुत ही कारगार नुस्खा है| कुल्थी के प्रयोग से किडनी की पथरी जल्दी ही घुल जाती है और पेशाब के ज़रिये शरीर से निकल जाती है|

kidney stone home remedy

AD3

कुल्थी को किस प्रकार उपयोग में लें:

कुल्थी का सेवन आप तीन प्रकार से कर सकते हैं जिससे बहुत आसानी से किडनी की पथरी घुल कर शरीर से बाहार निकल जाती है| नीचे मैंने इन तीनों तरीकों को बताया है| कृपया इसे अंत तक पढ़ें और समझें जिससे आप बिना ऑपरेशन के किडनी की पथरी की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं|

  • कुल्थी का सूप – 250 ग्राम कुल्थी ले लें| इसे अच्छी तरह से साफ़ कर लें और 3 लीटर पानी में इसे रात भर के लिए भिगो दें| अब इस मिश्रण को सुबह कुल्थी सहित धीमे आंच पर चढ़ा दें| इसे तब तक पकाते रहें जब तक यह मिश्रण 1 लीटर का नहीं रह जाता है| लगभग 1 लीटर हो जाने पर इस मिश्रण को नीचे उतार लें और इसमें 2 बड़े चम्मच देशी घी (गाय का घी सबसे उत्तम) छौंक लगा दें| अब इसमें सेंधा नमक और काली मिर्च मिला लें| इस सूप का सेवन दोपहर में करें| इसके साथ अधिक मात्रा में कुछ न खाएं| केवल 1-2 रोटी खा सकते हैं|

इस सूप के नियमित सेवन से किडनी की पथरी गल के अपने आप पेशाब के रास्ते निकल कर बाहर आ जाती है|

  • कुल्थी की दाल – कुल्थी की दाल भी बाज़ार में उपलब्ध है| इस दाल के सेवन के अनगिनत लाभ हैं| इसमें सबसे अधिक लाभ यह है कि इस दाल को खाने से किडनी की पथरी के टुकड़े टुकड़े हो जाते हैं और यह बिना ऑपरेशन के ही पेट से पेशाब के ज़रिये बाहर निकल जाती है| इसके अलावा कुल्थी की दाल मोटापा घटाने में, हड्डियों की चिकनाहट बढ़ाने में भी बहुत लाभदायक है| इस दाल को आप किसी भी और दाल की तरह बना कर सेवन करें|
  • कुल्थी का पानी – कुल्थी के पानी का नियमित सेवन भी गुर्दे और मूत्राशय से पथरी निकालने का एक उत्तम और बहुत ही सरल उपाय है| रात में एक बड़े गिलास में 250 ml पानी ले लें और इस पानी में 20 ग्राम कुल्थी को साफ कर के डाल दें| सुबह इस पानी को खाली पेट पी लें| इसके बाद फिर से 250 ml पानी इस गिलास में उसी कुल्थी पर डाल दें| इस पानी को दोपहर में पी लें| और इसमें फिर उतना ही पानी भर के रख दें| इस पानी को शाम को पी लें|

इस तरह सुबह, दोपहर, शाम इस कुल्थी के पानी का सेवन करें| रात में इन कुल्थी के दानों को फ़ेंक दें और नए कुल्थी के दानें फिर से अगले दिन के लिए भिगो दें| ऐसा नियमित रूप से एक माह तक करने से किडनी की पथरी गल कर धीरे धीरे शरीर से बाहर निकल जाती है|

इसके अलावा कुल्थी के प्रयोग के साथ साथ बहुत ज्यादा मात्रा में पानी का सेवन अवश्य करें| इससे किडनी से पथरी को निकलने में सहायता मिलती है|

आंवला, मूंग की दाल, चोलाई का साग, खीरा, बथुआ, जौ इत्यादि का सेवन भी लाभदायक माना जाता है|

चाय कॉफ़ी, चॉकलेट, टमाटर, बैंगन इत्यादि किडनी की समस्या के लिए अच्छे नहीं माने जाते इसलिए इन चीज़ों से दूर रहें|

कुल्थी के नियमित सेवन से बड़ी आसानी से आप बिना ऑपरेशन के किडनी की पथरी की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं|

अगर हार्ट अटैक का अंदेशा हो तो सबसे पहले यह करें! इस जानकारी से जान बच सकती है!

Heart Attack Situation in Hindi

 आज मैं आपसे एक बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी share करने जा रही हूँ| इसे कृपया बहुत ध्यान से सुनियेगा| इससे किसी की जान बच सकती है| कई बार यह देखा गया है कि हार्ट अटैक आने पर मरीज़ के पास ज्यादा समय नहीं रहता| बहुत बार इसका यह कारण होता है कि आस पास के लोगों को यह जानकारी ही नहीं होती कि अगर किसी को हार्ट अटैक आ जाए तो सबसे पहले तुरंत क्या किया जाए|

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि अगर किसी को हार्ट अटैक आ जाए तो ऐसी स्तिथि में तुरंत क्या करें जिससे मरीज़ की जान बच सके| इस विडियो में आपको पता चलेगा कि जब तक आपको डॉक्टर या हॉस्पिटल की सहायता नहीं मिलती तब तक आपको क्या करना चाहिए|

AD3

यह एक जानकारी किसी की जान बचा सकती है! कृपया इसे ज़रूर देखें!
Please Subscribe to our YouTube channel for more tips

http://bit.ly/gharkitips

https://youtu.be/g08pi9l5I2g

अगर दर्द सीने के पास बायीं तरफ हो और जबड़े और हाथ तक महसूस हो तो यह हार्ट अटैक के लक्षण हैं| ऐसी स्तिथि में मरीज़ को तुरंत ही सपाट बेड पर लेटा दें| कमरे के दरवाज़े और खिड़कियाँ खोल दें और मरीज़ के आस पास भीड़ न जमा होने दें| इससे मरीज़ को ऑक्सीजन मिलती रहेगी| अब मरीज़ के कपड़े ढीले कर दें और नब्ज़ और दिल की धड़कन चेक करें|

कृपया मरीज़ को कुछ खिलाने पिलाने का प्रयास न करें|

अगर मरीज़ बेहोश हो जाए तो अपने मुँह से मरीज़ का मुँह सटाकर उसमें सांस भरनी चाहिए और सीने पर मालिश करनी चाहिए| इस प्रोसेस को Cardiopulmonary Risssiteshn कहते हैं और इससे मरीज़ के दिल की बंद हुई धड़कने शुरू होने में बहुत सहायता मिलती है|

अपनी हथेली मरीज़ के सीने के बीच रखें और हथेली को जोर से दबाएँ जिससे सीना आधे इंच से लेकर एक इंच नीचे दब जाए| यह प्रक्रिया तब तक करते रहें जब तक किसी डॉक्टर की सहायता नहीं मिल जाती|

इसके अलावा आप मरीज़ की टांगें थोड़ी ऊपर कर सकते हैं जिससे उसके दिमाग और दिल तक अधिक मात्रा में खून पहुँच सके|

अगर मरीज़ होश में है तो उसकी जीभ के नीचे एस्प्रिन की एक या दो गोली रख दें| हार्ट अटैक आने पर कई हृदय रोग विशेषज्ञ यानि की cardiologists एस्प्रिन लेने की पुष्टि करते हैं| इसके साथ ही मरीज़ का होसला बढ़ाते रहें|

इसके अलावा हार्ट अटैक का अंदेशा होते ही तुरंत ही प्रयास करें कि मरीज़ को किसी हृदय रोग विशेषज्ञ या फिर हॉस्पिटल ले जाया जा सके|

इन सब जानकारियों का पता होना बहुत ही आवश्यक है जिससे कभी ज़रुरत पड़ने पर आप तुरंत ही इसका उपयोग कर सकें|

कृपया इस जानकारी को ज़्यादा से ज़्यादा share करें| आपका एक share किसी की जान बचा सकता है|

Please Subscribe to our YouTube channel for more tips

http://bit.ly/gharkitips

हिचकी तुरंत रोकने के 5 असरदार घरेलू नुस्खे!

हिचकी तुरंत रोकने के 5 असरदार घरेलू नुस्खे!

Hello friends, अगर आप बार बार हिचकी आने से परेशान हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं| दोस्तों कई बार हिचकी हमारे लिए एक बहुत बड़ी समस्या बन जाती है| जब हिचकी बंद न हो रही हो तो बैचेनी हो जाती है और समझ में नहीं आता है कि इसे कैसे बंद करें| आज के 5 असरदार घरेलू नुस्खे मिनटों में आपकी हिचकी को बंद कर देंगे|

हिचकी तुरंत रोकने के 5 असरदार घरेलू नुस्खे!

AD3

चलिए जानते हैं तुरंत हिचकी रोकने के 5 सरल घरेलू नुस्खे:

Tip Number – 1

  • चीनी – दोस्तों अगर आपको हिचकी आ रही है तो सबसे पहले तो आप ज्यादा सा पानी पियें| अगर पानी से हिचकी नहीं रुक रही है तो 1 बड़ा चम्मच चीनी मुँह में डाल कर इसे धीरे धीरे चूसें| ऐसा करने से हिचकी बंद होने में सहायता मिलेगी|

Tip Number – 2

  • सरसों के दाने – हिचकी आने पर आधा छोटा चम्मच सरसों के दाने आधा छोटा चम्मच गाय के घी के साथ मिलाकर निगल लें| इससे हिचकी में तुरंत आराम मिलेगा|

Tip Number – 3

  • हल्दी – हिचकी को तुरंत रोकने का यह रामबाण तरीका है| हिचकी आने पर एक चुटकी हल्दी मुँह में डाल कर निगल लें और तुरंत ऊपर से पानी पी लें| इससे हिचकी तुरंत रुक जायेगी|

Tip Number – 4

  • छोटी इलाइची – 4-5 छोटी इलाइची को दरदरा पीस लें| अब इसे आधे लीटर पानी में उबाल लें| जब यह पानी 1 कप रह जाए तब इस मिश्रण को छान कर थोड़ा सा ठंडा होने दें| जब यह गुनगुना हो जाए तब इसे पियें| इससे हिचकी रुकने में तुरंत ही लाभ होगा|

Tip Number – 5

  • अदरक – एक टुकड़ा अदरक मुँह में रख के इसे धीरे धीरे चूसें| इससे हिचकी रुकने में सहायता मिलेगी|

तो दोस्तों जब भी आपको हिचकी परेशां करे आप अपनी सुविधा के अनुसार इनमें से कोई भी टिप को ज़रूर try करें| आपको निश्चित ही हिचकी से तुरंत ही आराम मिलेगा|

यह जानकारी अपने friends और family के साथ share करें जिससे वह भी हिचकी की परेशानी से बड़ी आसानी से आज़ादी पा सकें|

औषधियों गुणों से भरपूर इस पौधे की पत्तियों से अब डायबिटीज, उच्च रक्तचाप और कैंसर जैसी बिमारियों का इलाज!

sadabahar-health-benefits

sadabahar-health-benefits

जी हाँ दोस्तों आज हम आपको एक ऐसे औषधिक गुणों से भरपूर पौधे के बारे में बताएँगे जो डायबिटीज, उच्च रक्त चाप और कैंसर जैसी बिमारियों का इलाज करने में सक्षम है| यह पौधा हमारे आस पास हर जगह आसानी से पाया जाता है और शायद इसी कारण से हम कई बार इसे एक साधारण सा पौधा समझ कर इसके गुणों को नज़रंदाज़ कर देते हैं|

AD3

इस पौधे का नाम है सदाबहार| वैसे तो इस पौधे के कई नाम हैं पर इसे सदाबहार इसलिए कहा जाता है क्यूंकि इसमें पूरे वर्ष फूल खिलते हैं| इस पौधे की पत्तियां बहुत से रोगों के इलाज के लिए बहुत ही फायदेमंद है और सबसे अच्छी बात यह है कि यह पौधा हमारे आस पास बहुत ही आसानी से उपलब्ध हो जाता है|

इस पौधे का वैज्ञानिक नाम catharanthus है और यह पौधा बहुत से रोगों के उपचार में बहुत ही उपयोगी है| गले की खराश और खांसी के लिए इसकी पत्तियों का काढ़ा पीने से लाभ मिलता है, इसकी पत्तियों का दूध घाव पर लगाने से घाव बहुत जल्दी ही सूख जाता है, फोड़े फुंसी और मुहांसों पर भी इसके पत्तों और फूलों का रस लगाने से लाभ मिलता है और मधुमक्खियों के काटने पर भी इसकी पत्तियों का रस लगाने से बहुत जल्द ही आराम मिलता है| इसके अलावा डेंगू और चिकनगुनिया जैसे रोगों के इलाज में भी यह पौधा बहुत उपयोगी है|

Diabetes या मधुमेह का घरेलू उपचार (Home Remedy For Diabetes) – Diabetes या मधुमेह के इलाज के लिए वैज्ञानिकों ने भी इस पौधे को बहुत उपयोगी बताया है| यह diabetes की natural home remedy है और बहुत ही लाभदायक है|

आधे कप गरम पानी में सदाबहार के 4 फूल डाल दें और 10 मिनट के लिए इसे ढककर छोड़ दें| इसके बाद इन फूलों को निकाल दें और इस पानी को रोज़ सुबह खाली पेट पियें| ऐसा एक हफ्ते तक करें और फिर अपना शुगर चेक करें| आपके रक्त में ग्लूकोस की मात्रा निश्चित ही कम हो जायेगी| इसके बाद इस प्रोयाग को नियमित रूप से करते रहें|

इसके अलावा सदाबहार की 3-4 पत्तियां धो कर साफ़ कर लें और सुबह खाली पेट इन्हें चबाएं| इससे भी ब्लड शुगर level को सामान्य होने में लाभ मिलता है| इस प्रयोग को नियमित रूप से करें| इस पौधे की पत्तियों की चटनी बनाकर खाली पेट लें या फिर इसकी पत्तियों और फूलों का रस खाली पेट लें यह सब डायबिटीज में बहुत ही फायदेमंद है|

कैंसर का घरेलू उपचार (Home Remedy For Cancer) – सदाबहार के पौधे से मिल सकती है cancer की नेचुरल होम रेमेडी| सदाबहार के पौधे में vincristine and vinblastine नामक दो Alkaloid पाए जाते हैं जो कैंसर के मरीज़ के लिए बहुत ही लाभदायक हैं| सुबह खाली पेट सदाबहार के पत्तियों की चटनी कैंसर के रोगी को नियमित रूप से खिलाएं| इससे निश्चित ही बहुत लाभ मिलेगा|

उच्च रक्त चाप का घरेलू उपचार (Home Remedy For High Blood Pressure) – उच्च रक्त चाप के रोगी सदाबहार के पौधे की जड़ या टहनी को चबा चबा कर इसका रस चूसें| ऐसा नियमित रूप से करने से उच्च रक्त चाप को नियंत्रण में आने में बहुत लाभ मिलेगा|

दोस्तों आशा करती हूँ आपको यह जानकारी से लाभ मिला होगा| अगर आप या आपके परिवार जन कोई भी इन रोगों से ग्रसित हैं तो अवश्य ही आप सदाबहार का उपयोग कर के देखें| इससे आपको अचंभित करने वाले लाभ मिलेगें|

सदाबहार का पौधा बहुत ही आसानी से लग जाता है| बस इसके डंठल को मिटटी में लगा दीजिये और नियमित रूप से पानी दीजिये| परन्तु यह ध्यान रखिये कि केवल सफ़ेद और गुलाबी फूल वाले सदाबहार के पौधे ही रोगों से लड़ने के लिए उपयोगी होते हैं|

हार्ट अटैक के यह 7 संकेत कभी नज़रंदाज़ मत करिए! इन्हें जानकार आप हार्ट अटैक के खतरे को टाल सकते हैं!

अगर आपके हार्ट में कुछ समस्या है और आपको हार्ट अटैक आने वाला है तो क्या आप इसे समझ पायेंगे?

AD3

दोस्तों यह हम सब जानते हैं कि आजकल heart attack आना एक आम बात हो गयी है| पर क्या आप यह जानते हैं कि बहुत से हार्ट अटैक टल सकते हैं अगर हम अटैक आने से पहले ही बॉडी के दिए गए संकेतों (Heart Attack Symptoms)को समझें और फिर उचित कदम उठायें|

आज पूरे विश्व में सबसे ज्यादा मृत्यु ह्रदय सम्बंधित रोगों के कारण ही होती है| हमारा शरीर हार्ट अटैक आने से पहले ही कुछ संकेत देना आरम्भ कर देता है| इसलिए यह बहुत आवश्यक है कि हम इन संकेतों के बारे में  जानें और अपने और अपने परिवार वालों की इस खतरे से रक्षा करें| अगर हम इन संकेतों को जानेंगे तो निश्चित ही heart attack का संकट आने से पहले ही हम स्वयं अपनी सहायता कर सकते हैं या फिर अपने किसी मित्र या परिवार जन की सही समय पर सहायता कर सकते हैं| याद रखिये कि इससे जानलेवा संकट टल सकता है इसलिए इसमें बिलकुल भी लापरवाही मत करिए!

आजकल की medical science ने इतनी प्रगति कर ली है कि अगर उचित समय पर मरीज़ को सहायता मिल जाए तो 90% उम्मीद है कि उसका जीवन बच जाएगा|

याद रखिये हार्ट अटैक हमेशा वैसा नहीं होता जैसा हमें फिल्मों में दिखता है जिसमें बड़े नाटकीय तरीके से जिसे हार्ट अटैक आता है उसके सीने में दर्द होता है और वह ज़मीन पर गिर पड़ता है| कई बार हार्ट अटैक ऐसे आता है कि मरीज़ के सीने में दर्द होगा ही नहीं| heart attack के कई और लक्षण भी होते हैं|

तो आईये जानते हैं हार्ट अटैक के 7 (7 Heart Attack Symptoms)लक्षण जिनसे जानलेवा खतरे को टाला जा सकता है|

  1. सीने में दर्द – यह हार्ट अटैक का सबसे आम लक्षण है जिसमें हृदय के आस पास दर्द, कसाव या फिर दबाव का एहसास होगा| कुछ लोग कहते हैं कि यह दर्द इतना तीव्र होता है कि ऐसा लगता है जैसे हाथी सीने पर बैठ गया और कुछ लोगों का कहना है कि यह दर्द चींटी के काटने के समान या फिर जलन की तरह होता है और आता जाता रहता है| अगर किसी को भी ऐसा दर्द हो तो इसे नज़रंदाज़ न करें और तुरंत ही डॉक्टर से परामर्श करें| वैसे ज़्यादातर औरतों को हार्ट अटैक बिना सीने में दर्द के भी आ सकता है|
  2. बाएं हाथ में दर्द अगर शरीर के बायीं तरफ की बांह से लेकर जबड़े तक दर्द हो रहा है तो यह भी हार्ट अटैक का संकेत हो सकता है और ऐसे में तुरंत ही चिकित्सा आवश्यक है| अगर दर्द केवल जबड़ों में है तो यह शायद कुछ और है परन्तु अगर दर्द सीने से होता हुआ बाहों और जबड़े तक जा रहा है तो यह हार्ट अटैक का संकेत हो सकता है|
  3. चक्कर आना और सिर घुमना – अगर किसी ने बहुत देर तक भोजन नहीं किया है और इस वजह से उसे चक्कर आ रहे हैं तो बात अलग है परन्तु अगर बिना किसी कारण चक्कर आयें या फिर सिर घूमे तो यह हार्ट अटैक का लक्षण हो सकता है अतः इसमें कभी भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए|
  4. उल्टी आना या सीने में जलन होना – ज्यातर यह संकेत औरतों में देखा जाता है| वैसे तो किसी और कारण से भी उल्टी की शिकायत हो सकती है जैसे खाना ठीक नहीं पचना इत्यादि पर अगर आपको अक्सर जी मिचलाने की और सीने में जलन की शिकायत रहती है तो आप निश्चित ही अपने फॅमिली डॉक्टर से सलाह लें|
  5. बेवजह थकान महसूस होना – अगर पर्याप्त भोजन करके अच्छी नींद लेने पर भी थकान महसूस होती है तो यह भी ह्रदय के स्वास्थ के लिए अच्छा लक्षण नहीं माना जाता| अगर थोड़ा सा भी परिश्रम करके थकान हो जाती है और शरीर में कमज़ोरी लगती है तो यह भी हार्ट अटैक का लक्षण हो सकता है| इसके अलावा अगर बार बार नींद टूट जाती है और घबराहट और बैचेनी होती है तो भी तुरंत डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए|
  6. हांफ जाना और सांस लेने में तकलीफ – अगर थोड़ा सा भार उठाने से या फिर सीढ़ियाँ चढ़ने से थकान हो जाती है तो इसका अर्थ है ह्रदय में ब्लॉकेज है जिसकी वजह से उचित मात्रा में ऑक्सीजन शरीर को नहीं मिल पा रही है| ऐसे में मरीज़ को तुरंत ही डॉक्टर को दिखाना चाहिए|
  7. बेवजह पसीने आना – अगर बिना किसी कारण के पसीने आयें और घबराहट हो तो यह भी हार्ट अटैक का एक संकेत हो सकता है| ऊपर दिए गए संकेतों के साथ अगर बेवजह पसीने आ रहे हैं तो डॉक्टर से परामर्श आवश्यक है|

अपने हृदय के स्वास्थ के लिए यह बहुत आवश्यक है कि हम बाहर का खाना पीना ज्यादा न खाएं और फल और हरी सब्जियों को अपने खान पान में शामिल करें| इसके साथ ही हमें तेल घी से भी परहेज़ करना चाहिए और नियमित रूप से व्यायाम और सैर करनी चाहिए| इसके साथ ही ऊपर दिए गए संकेतों को कभी भी नज़रंदाज़ न करें जिससे कि हार्ट अटैक का जानलेवा खतरा टाला जा सके|